तेरा ख़्याल ही, रातो को महका देता है।

सोचता हूं, तुम आओगी तो क्या होगा।

©RajGuru

Myinkmythoughts

 

Share
Loading Likes...